गठिया रोग: जोड़ों के दर्द का इलाज – Gathiya ka ilaj

 गठिया बाय, जोड़ों के दर्द का इलाज ( Gathiya ka ilaj )

0
678
Gathiya jodo ka dard ka ilaj
Gathiya jodo ka dard ka ilaj

जोड़ों के दर्द का इलाज – Gathiya ka ilaj

गठिया रोग  I  जोड़ों का दर्द  I  घरेलू नुस्खे: घरेलू उपचार  I   लक्षण  I   जोड़ों के दर्द का इलाज 

Jodo ka dard Gathiya ka ilaj: 

नमस्कार दोस्तों आज हम बात करने वाले हैं कि आप अपने गठिया बाय की बीमारी को  या जोड़ों के दर्द की बीमारी को आयुर्वेदिक घरेलू नुस्खे कैसे ठीक कर सकते हो। इस पोस्ट में दोस्तों हम आपको कुछ बताएंगे जिनका उपयोग करके  आप अपने पुराने से पुराने जोड़ों के दर्द पुराने से पुराने गठिया बाय की बीमारी हमेशा के लिए ठीक कर सकते हो।

इसके अलावा दोस्तों हम आपको बताएंगे गठिया बाय यानी के जोड़ों का दर्द किस वजह से होता है। और इस बीमारी को ठीक करते हुए उनको किन किन चीजों का परहेज करना चाहिए। और ज्यादा संभावना बढ़ जाए हमारी गठिया बाय या जोड़ों के दर्द की बीमारी को ठीक होने के तो चलिए दोस्तों शुरू करते हैं।

इस पोस्ट को लास्ट तक जरूर पढ़ें ताकि आपको अच्छे से समझ में आ जाए हमने आपको बताया क्या है और अपने दोस्तों के साथ इसको शेयर जरूर करें ताकि किसी जरूरतमंद व्यक्ति यह पोस्ट आसानी से पहुंच जाए घरेलू तरीके से।अपनी गठिया बाई की बीमारी या जोड़ों के दर्द की बीमारी आसानी से ठीक कर सके। 

गठिया के लक्षण:-

दोस्तों गठिया बाय के साथ-साथ और भी लक्षण होते हैं ऐसे:-

  1.  जोड़ों में सूजन
  2.  दोनों के आसपास  शरीर लाल होना
  3.  शरीर के जोड़ों को जलाने में तकलीफ होना
  4. पूरे शरीर में जकड़न होना

  गठिया बाय में तकलीफ इतनी बढ़ जाती है यह शरीर के जोड़ों हो सुनने से भी दर्द का एहसास होता है

 गठिया बाय होने के कारण, Gathiya Rog Ke Karan:-

जोड़ों का दर्द या गठिया शरीर में यूरिक एसिड के बढ़ जाने से भी होता है.  यह विषैला पदार्थ शरीर के माध्यम से बाहर निकाल देता है। और इसको बाहर निकालने में हमारे गुर्दों की मुख्य भूमिका होती है। जब हमारे गुर्दे अपना काम सुचारू रूप से नहीं कर पाते तब यह पदार्थ शरीर में इकट्ठा होने लगता है. फिर यह जोड़ों में जाकर दर्द का कारण बनता है और गठिया रोग का रूप धारण कर लेता है.

जोड़ों के दर्द और अकड़न से बचने के लिए सरल घरेलू नुस्खे:-

 1. लंबे समय तक एक ही मुद्रा में रहने अथवा बैठने से बचें।

   2. उन मुद्राओं और चाल (मूवमेंट) से बचें जो दर्दनाक जोड़ों पर अतिरिक्त तनाव डालती हैं।

    फर्श पर बैठने से बचें।

   3. अपने मूवमेंट को आसान बनाने के लिए अपनी गतिविधियों को संशोधित करें या उनमें बदलाव लाएं।

   4. जब दर्द और अकड़न जैसे लक्षण बढ़ रहे हों तो उचित आराम करें।

Gathiya rog ka ilaj
Gathiya rog ka ilaj

 गठिया बाय, जोड़ों के दर्द का इलाज ( Gathiya ka ilaj )

अदरक:  सूखे अदरक को पीसकर उसका पाउडर बना लें, 6 चम्मच अदरक पाउडर में जीरा पाउडर वह तीन चम्मच काली मिर्च का पाउडर मिलाएं सबको अच्छे से मिलाकर  शीशे के जार में भर ले हर रोज आधा चम्मच पाउडर गुनगुने पानी के साथ खाएं ऐसा हर रोज दिन में 3 बार करें.

अपने खाने में अदरक का ज्यादा सेवन करें इससे गठिया रोग में काफी आराम मिलता है थोड़े दिनों में गठिया रोग खत्म हो जाता है।

 हल्दी:  हल्दी के उपयोग से सूजन कम होती है गठिया से होने वाली सूजन पर भी असरदार है

  हर रोज हल्दी का जूस या गरम दूध में हल्दी डालकर सोने से पहले पिए इससे गठिया रोग में काफी आराम मिलता है।

 मसाज:  गठिया के रोग में सरसों के तेल से मालिश बहुत अच्छी होती है इससे अकड़न और सूजन दोनों ठीक हो जाते हैं यह प्राकृतिक उपचार है इससे खून का संचार भी बनता है

सरसों के तेल को हल्का गुनगुना कर ले इसके अंदर प्याज का रस भी मिला सकते हैं। अभी से जोड़ों के दर्द वाले स्थान पर लगाएं और हल्के हाथों से मालिश करें मालिश करने से पहले जोड़ों को गर्म कपड़े की सहायता से सेक लें. सोने से पहले रोज ऐसा करें।

 मेथी:  जोड़ों के दर्द गठिया बाय की बीमारी में मेथी बहुत आराम देती है मेथी दानों को पीसकर उसका पाउडर बना लें इसे रोज सुबह गुनगुने पानी के साथ हैं कुछ ही दिनों में आपको बहुत ज्यादा फर्क नजर आना शुरू हो जाएगा. 

Read More: बदन दर्द,घुटनों का दर्द,जोड़ो का दर्द शरीर के हर प्रकार के दर्द को हमेशा के लिए ठीक कर देगा ये घरेलू उपाए

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here