कान का बहना तुरंत ठीक करने का रामबाण घरेलू इलाज,kaan ka behna kaise band kare in hindi

0
1140
kaan ka bhna
kaan ka bhna

कान बहने से रोकने का उपचार और दवा : 10 आसान उपाए

दोस्तों आज हम बात करने वाले है की आप अपने कान बहने की बीमारी का इलाज कैसे कर सकते हो,और साथ में आपको बताएँगे की क्या कारण होते है कान बहने के, कान बहने के क्या लक्षण होते है, दोस्तों कान के बहने को रोकने के जो घरेलू रामबाण नुस्खे, हम आपको बतायेंगे, उनका उपयोग करके आप आप अपना कान का बहना तो रोक ही लोगे, साथ में जो कान का दर्द होता है उसका इलाज भी कर लोगे, तो दोस्तों पोस्ट को लास्ट तक पढना और अच्छा लगे तो शेयर जरुर करे ताकि और जयादा लोगो के काम आ जाये,

कान बहने का उपचार और दवा इन हिंदी:

आप जानेंगे कान का बहना रोकने के कुछ घरेलू उपचार जिनका उपयोग करके आप अपनी कान बहने की बीमारी से छुटकारा पा सकते है, हमेशा के लिए दोस्तों कुछ लोग इस बीमारी के इलाज के लिए अंग्रेजी दवा का सेवन करते है लेकिन आराम नही लगता अगर लगता भी है तो जब तक दवाई लेते है तभी तक आराम ही रहता है, लेकिन यहाँ हम आपको जो कानो का बहाना रोकने के घरलू उपाए, बताएँगे उनका सेवन करके आप अपनी इस कान बहने की बीमारी का इलाज, हमेशा के लिए कर सकते हो. तो आइये आगे पढ़ते है.

कान बहने के कारण, किन कारणों से कान का बहना शुरू हो जाता है :

  • कई बार हम कान साफ़ करने के लिए किसी भी चीज को कान के अंदर डाल देते है,कई बार वह चीज नुकीली होती है और हमारे कान में जख्म बना देती है, कुछ दिनों के बाद वह जख्म पाक जाता है मवाद बनना शुरू हो जाती है और कान का बहना शुरू हो जाता है |
  • कई बार नहाते हुए या पानी में तेरते  हुए कान के अंदर पानी चला जाता है इस वजह से भी कान का बहाना शुरू हो जाता है क्यूंकि कान के अंदर पानी जाने के बाद कानो का पकना शुरू हो जाता है,
  • टी.बी रोग हो जाने के कारण या ज्यादा सर्दी जुखाम हो जाने के कारण भी कानो का बहना शुरू हो जाता है,
  • कान के अंदर जायदा धूल मिटटी जाने के कारण भी कान के अंदर जायदा मेल जम जाता है और कुछ ही दिनों में कान में मवाद बनना शुरू हो जाती है और कान का बहना शुरू हो जाता है,

कान के बहने के लक्षण : कान में भारीपन,शुल,कान में सुजन होना,आवाज आना,कान और सिर का भारी – भारी होना, कान का पर्दा फट जाना, कानो से कम सुनाई देना,कान से तरल पदार्थ निकलना आदि कानो के बहने के लक्षण होते है, जोकि बड़ी आसानी से पहचाने जा सकते है.

kaan ka behna kaise thik kare

कान बहने का उपचार और दवा : Kaan Behna Ka Ilaj In Hindi :

  • एक चम्मच सहद के अंदर एक चम्मच नीम का तेल मिलाकर 2 – 2 बूंद कानो में दिन में दो बार डाले मात्र कुछ ही दिनों में कानो का बहना ठीक हो जायेगा,
  • रोज सुबह श्याम खली पेट 1 गिलास पानी के अंदर 1 या 2 निम्बू कटकर डाले और दिन में दो बार उस पानी का सेवन करे 1 हफ्ते के अंदर – अंदर कानो का बहना बंद हो जायेगा,
  • हरी घास जिसे हरी दूब भी बोल देते है ताजी हरी घास लेकर आये और उसको पीसकर उसका रस निकालकर 2 से 3 बुँदे अपने कानो में दिन में 2 बार डाले इस छोटे से प्रयोग से आपके कानो का बहना बहुत जल्दी रुक जायेगा.
  • अचानक कान में दर्द होता है तो अपने ही पेशाब की 1 से 2 बुँदे अपने कान में डाले ये सुनने में आपको गलत और अजीब लगेगा लेकिन ये बहुत जबर्दस्त नुस्खा है इसके 1 बार के प्रयोग से ही कान का दर्द और कान का बहना तुरंत रुक जाता है.
  • एक पतंजली की दवाई आती है जिसका नाम है “सरिवादी वटी” यह दवा कान के हर प्रकार के रोग के लिए फायदेमंद है, रोजाना भोजन के बाद एक – एक गोली दूध के साथ इस गोली का सेवन करे, इसके कुछ दिन के सेवन से आपके कान के दर्द की बीमारी,कान के बहने की बीमारी,आदि सभी प्रकार की बीमारी में आराम मिलता है,

तो दोस्तों ये थे कुछ नुस्खे आपके कान के दर्द और कान के बहने की बीमारी को ठीक करने के इन छोटे छोटे नुस्खो के उपयोग से आप अपनी कानो की सभी प्रकार की बीमारी से छुटकारा पा सकते है, इन नुस्खो का कोई भी साइड effect नही है जब तक आपको आराम नही लग जाता आप इन नुस्खो का उपयोग कर सकते है. अगर आपको टाइम मिले तो पोस्ट को शेयर जरुर करना दोस्तों धन्यवाद.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here